Rahat Indori Shayari Status Hindi Mein





Rahat Indori Shayari Status Hindi Mein


दोस्तों आज के इस आर्टिकल Rahat Indori Shayari Status Hindi Mein में मैं आपको उपलब्ध कराने जा रहा हूं एक बहुत ही महान कवि डॉ राहत इंदौरी साहब की कुछ शायरियां जिन्हें आप लोग देखना पसंद करते हैं और जिन्हें आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों में सेंड भी कर सकते हैं राहत इंदौरी साहब की शायरियां आप सभी को बहुत ही ज्यादा पसंद है इसलिए मैंने इस बात को ध्यान में रखते हुए इन कुछ शायरियो को पेश किया है अब चलते हैं चलो शायरियों की तरफ



जो तौर है दुनिया का,उसी तौर से बोलो ,


बेहरो का इलाका है , जरा जोर से बोलो /


दिल्ली में हमी बोला करें अम्ल की बोली,


यारों कभी तुम लोग भी लाहौर से बोला करों /



rahat indori shayari status


सूरज सितारे चाँद मेरे हाथ में रहे ,


 जब तक आपके हाथ मेरे हाथ में रहे ,


साखों से टूट जाये वो पत्तें नहीं है हम ,


आंधी से कोई कहदे औकात में रहे /




उसकी कथ्थई आँखों में है जंतर मंतर सब


चाकू बाकू छुरिया बुरिया खंजर बंजर सब /


जिस दिन से तुम रूठी मुझसे रूठे रूठे है ,


चादर बादर तकियाँ बकिया बिस्तर सिस्टर सब/


मुझसे बिछड़कर वो भी कहा पहले जैसी है ,


फीके पड़ गए कपडे/ बापड़े जेबर बेबर सब


सफर में आखिरी पत्थर के बाद आएगा ,


मजा तो यार दिसंबर के बाद आएगा /



रात की धड़कन जब तक जारी रहती है ,


सोते नहीं हम जिम्मेदारी रहती है /


rahat indori shayari status


जाके ये कहदे कोई सोलो से चिंगारी से ,


फूल इस बार खिले है बड़ी तैयारी से ,


मुद्दतों बाद यूँ तब्दील हुआ है मौसम ,


जैसे छुटकारा मिला हो किसी बीमारी से //



नदी ने धुप से क्या कह दिया रबानी में ,


उजाले पांब पटकने लगे है पानी में /


अब इतनी सारी शबो का हिसाब कौन रखे ,


बड़े शबाब कमाए गए जबानी में /


rahat indori shayari status


नयी हवाओं की शोबत बिगाड़ देती है ,


कबूतरों को खुली छत बिगाड़ देती है ,


और जो जुर्म करते है इतने बुरे नहीं होते ,


सजा न देकर अदालत बिगाड़ देती है /








 

           Rahat Indori Latest Shayari In Hindi


 

  release ke din ya uske   agle din kisi bhi movie ko dekhne ke liye yeha click karen

 




Post a Comment

0 Comments